Home » Gyan » अगर इस दिन आपने कोई नया काम शुरू किया तो? | Agar is din aapne koi naya kaam shuru kiya to ?
dharmik
dharmik

अगर इस दिन आपने कोई नया काम शुरू किया तो? | Agar is din aapne koi naya kaam shuru kiya to ?




अगर इस दिन आपने कोई नया काम शुरू किया तो? | Agar is din aapne koi naya kaam shuru kiya to ?

सामान्यत: (normally) किसी भी उत्सव (festival) या कार्यक्रम पर हम नई ड्रेस (new dress) पहनते हैं। ऐसा कोई अवसर यदि शनिवार को आ रहा हो तो उस दिन नई ड्रेस न पहनें। शनिवार ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सबसे अधिक क्रूर (very dangerous) और अशुभ समझे जाने वाले ग्रह शनि का दिन है।

शनिवार के दिन कोई नया कार्य न प्रारंभ (don’t start any new work) करने पर भी जोर दिया जाता है। मान्यता है कि इस कार्य प्रारंभ करने पर वह कार्य बड़ी परेशानियों (big problems) के साथ पूरा होता है तथा उस कार्य में सफलता मिलना बहुत कठिन हो जाता है। इस दिन कहीं बाहर यात्रा पर जाना भी वर्जित किया गया है।

क्रूर ग्रह शनि गरीबों और न्याय का प्रतिनिधित्व करता है। वहीं राहु और केतु को शनि के अधिन माना गया है। यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि अशुभ स्थान पर है तो शनि सहित राहु-केतु भी उसके जीवन में कई परेशानियां (problems in life) खड़ी कर देते हैं।

शनि अशुभ होने पर शनिवार को नया कार्य शुरू करने पर शनि का बुरा प्रभाव और अधिक बढ़ जाता है। ऐसे में शनि को अनुकूल करने के लिए निम्न उपाय करें-

शनिवार को सुंदरकांड (sunder kaand) या हनुमान चालिसा (hanuman chalisa) पाठ करें।

– हनुमानजी को सिंदूर और चमेली का तेल अर्पित करें।

– पीपल के वृक्ष (peepal tree) पर जल चढ़ाकर सात परिक्रमा करें।

– शनिवार को काले या नीले रंग के कपड़े (clothes) कतई न पहने।

शनिवार को किसी गरीब को काला कंबल (black blanket) दान करें।

– अपनी जेब में हमेशा एक चांदी का टुकड़ा (silver piece) रखें।

– बहते पानी में नारियल (coconut) और बादाम प्रवाहित करें।

– सिक्का, जौ, सरसों एवं राहु की वस्तुओं को जल में प्रवाहित करें या दान करें।

शनिवार को सीधे हाथ की मध्यमा अंगुली (middle finger- मीडिल फिंगर) में काले घोड़े की नाल का छल्ला पहनें।

One comment

  1. Dhan ki kami, koi bhi kary karata hu viphal ho jata h

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*