Home » Desi Nuskhe » आसान उपायों से निखारे सौंदर्य | Asaan upayo se nikhaare saundarya
dharmik
dharmik

आसान उपायों से निखारे सौंदर्य | Asaan upayo se nikhaare saundarya




आसान उपायों से निखारे सौंदर्य| Asaan upayo se nikhaare saundarya

आज की युवा पीढी (young generation) से पूछा जाए की आप अपने सोंद्रय को निखारने के लिए क्या करते है , तो उनका जवाब हो गा की मार्केट में इतने ब्यूटी प्रोडक्ट्स (beauty products) है , उनके प्रयोग से हम सुंदर बन सकते है । पर वे शायद उन उत्पादों में मिले तेज रसायनों के कुप्रभाव से वाकिफ नहीं है ।

बाजारी प्रोडक्ट्स त्वचा को रूखा बनाते है और त्वचा में खिचाव लाकर त्वचा की प्राकृतिक नमी समाप्त कर देते है । परिनामरूप त्वचा बेजान और आन्तिहीन लगने लगती है । यदी कम कुछ प्राकृतिक नमी को बचा सकता है और अपनी त्वचा पर होने वाले कुप्रभावों से भी बाख सकते है ।

तनावमुक्त त्वचा निखारती है सोंदर्य  :  मनुष्य को प्राय : तीन तनाव होते है , मानसिक (mental), शारीरिक (physical) और भावनात्मक (emotional)। इन तीनों तनावों में से यदी एक भी तनाव साथ है , तो त्वचा अपनी प्राकृतिक सुंदरता खोने लगती है । आप दिन भर शारीरिक काम (physical work) अधिक करती है , तो कुछ अंतराल बाद थोड़ा ब्रेक लें । आप दिमागी काम अधिक करते है , तो बीच में थोड़ी झपकी ले लें । कुछ देर बाहरी प्राकृतिक (nature) वातावरण का आनंद ले या फिर अपनी पसंद का म्यूजिक सुने । कभी – कभी परिवार में कुछ ट्रेजडी हो जाती है , जिससे आप भावनात्मक रूप से जुड़े होते है , तब भी अप्प तनावग्रस्त रहते है । प्रयास करके तनावों को दूर रहे , ताकि त्वचा खिली रह सके ।

त्वचा की रखे साफ – सफाई  :  त्वचा (skin) को साफ और निखरा हुआ रखने के लिए त्वचा की सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए । त्वचा की क्लींजिंग टोनिंग और माइश्चाराईजिंग करें । त्वचा की स्क्रबिंग करें । सप्ताह में एक बार गुनगुने पाने से स्नान करे । दो चम्मच आटे में एक चम्मच बादाम रोगन मिलाकर एक मिनट तक लगाएं , फिर हलके हाथों से रगड़कर साफ करें और चेहरा धो लें । ऐसा करने से प्रदूषण (pollution) की जमी परत त्वचा से हट जाएगी और त्वचा निखारी – निखरी लगेगी ।

शरीर की मालिश करें :  यदि हम नियमित रूप से तेल मालिश करें , तो हमारी त्वचा काफी समय तक युवा बनी रह सकती है । रोजाना नहाने (daily bath) से पूर्व सारे शरीर पर हल्की तेल मालिश करें और कुछ समय बाद यानी कम से कम 40 – 45 मिनट बाद स्नान करें । यदि समय की कमी हो , तो नहाते समय पहले शरीर गीला कर साबुन आदि लगाकर त्वचा साफ कर लें ।फिर हथेलियों में तेल लेकर टांगों , बाजुओं , गर्दन व पैरों पर लगाएं । बाद में फिर से पानी से नहा लें । तेल के बाद त्वचा पर साबुन न लगें । फिर हल्का पोछ कर कपडे पहन लें । इससे भी त्वचा में कुदरती नमी बनी रहेगी और त्वचा में जल्दी झुरियां नहीं बढ़ेगी ।

सकारात्मक सोच अपनाएं :  जो लोग चिताग्रस्त (depression) रहते है , उनकी नमी प्रदान करने वाली ग्रंथियां गड़बड़ा जाती है , जिससे त्वचा पर रूखापन, लकीरें और झुरियां उम्र से पहले दिखने लगती है । इससे बचने के लिए , अपनी सोच को सकारात्मक (positive thinking) रखें । स्वयं अच्छा प्रयास करें । परिणाम ऊपर वाले पर छोड़ दें ।

खुशी का दामन न छोड़ें :  जो लोग खुश रहते है , उनकी त्वचा आभ्युक्त होती है , क्योंकी त्वचा में नमी का संतुलन बना रहता है । खुश रहेंगे तो तनाव भी परेशान नहीं करेंगे । ऐसे में छोटी – छोटी समस्याओं पर आप आसानी से काबू पा सकेंगी ।

अपने लिए समय अवश्य निकालें  :  कितने भी व्यस्त क्यों न हो , पर अपने लिए समय अवश्य निकालें । अपने समय में अपनी पसंद का काम करें चाहे वह डासिंग हो , म्यूजिक सुनने का हो या म्यूजिक इंस्ट्रूमेंट (music instrument) बजाने का , शापिंग करना, पिक्चर देखना या अपने किसी ख़ास मित्र से गप्पें मारने का । चाहे तो उस समय में आप अपनी साफ – सफाई पर भी ध्यान दे सकते है । इस प्रकार अपने लिए अपनी पसंद का किया काम या बिताया समय आपको एनर्जी (energy) से भर देगा । आप एनेर्जिटिक (energetic) रहेगी , तो त्वचा तो खिली रहेगी ही ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*