Home » Kahaniya/ Stories » जब हम जिंदा होते हैं | jab hum jinda hote hai
Dharmik Symbol Om
Dharmik Symbol Om

जब हम जिंदा होते हैं | jab hum jinda hote hai




जब हम जिंदा होते हैं | jab hum jinda hote hai

गौर से दो बार पढे
जिस दिन हमारी मोत (death) होती है, हमारा पैसा बैंक (bank) में ही रहा जाता है।
*
जब हम जिंदा होते हैं तो हमें लगता है कि हमारे पास खच॔ करने को पया॔प्त धन (enough money) नहीं है।
*
जब हम चले जाते है तब भी बहुत सा धन बिना खच॔ हुये बच जाता है।
*
एक चीनी बादशाह की मोत हुई। वो अपनी विधवा (widow) के लिये बैंक में 1.9 मिलियन डालर (million dollar) छोड़ कर गया। विधवा ने जवान नोकर (young employee) से शादी कर ली। उस नोकर ने कहा – “मैं हमेशा सोचता था कि मैं अपने मालिक के लिये काम करता हूँ अब समझ आया कि वो हमेशा मेरे लिये काम करता था।”

सीख?
ज्यादा जरूरी है कि अधिक धन अज॔न कि बजाय अधिक जिया जाय।

• अच्छे व स्वस्थ शरीर (healthy body) के लिये प्रयास करिये।
• मँहगे फ़ोन (costly phone) के 70% फंक्शन अनोपयोगी रहते है।
• मँहगी कार (car) की 70% गति का उपयोग नहीं हो पाता।
• आलीशान मकानो (houses) का 70% हिस्सा खाली रहता है।
• पूरी अलमारी (almirah) के 70% कपड़े पड़े रहते हैं।
• पुरी जिंदगी की कमाई (income) का 70% दूसरो के उपयोग के लिये छूट जाता है।
• 70% गुणो का उपयोग नहीं हो पाता| तो 30% का पूण॔ उपयोग कैसे हो
• स्वस्थ होने पर भी निरंतर चैक अप (check up) करायें।
• प्यासे न होने पर भी अधिक पानी (more water) पियें।
• जब भी संभव हो, अपना अहं (ego/attitude) त्यागें ।
• शक्तिशाली (powerful) होने पर भी सरल रहेँ।
• धनी न होने पर भी परिपूण॔ रहें।
बेहतर जीवन जीयें !!!

काबू में रखें – प्रार्थना के वक़्त अपने दिल (heart) को,
काबू में रखें – खाना खाते समय पेट (stomach) को,
काबू में रखें – किसी के घर जाएं तो आँखों (eyes) को,
काबू में रखें – महफ़िल मे जाएं तो ज़बान (tongue) को,
काबू में रखें – पराया धन देखें तो लालच (greed) को,

भूल जाएं – अपनी नेकियों को,
भूल जाएं – दूसरों की गलतियों (mistakes) को,
भूल जाएं – अतीत के कड़वे संस्मरणों (past incidents) को,

छोड दें – दूसरों को नीचा दिखाना,
छोड दें – दूसरों की सफलता से जलना,
छोड दें – दूसरों के धन की चाह रखना,
छोड दें – दूसरों की चुगली करना,
छोड दें – दूसरों की सफलता पर दुखी होना,

यदि आपके फ्रिज (fridge) में खाना है, बदन पर कपड़े (clothes) हैं, घर के ऊपर छत है और सोने के लिये जगह है, तो दुनिया के 75% लोगों से ज्यादा धनी हैं
यदि आपके पर्स (purse) में पैसे हैं और आप कुछ बदलाव के लिये कही भी जा सकते हैं जहाँ आप जाना चाहते हैं तो आप दुनिया के 18% धनी लोगों में शामिल हैं
यदि आप आज पूर्णतः स्वस्थ होकर जीवित (living) हैं तो आप उन लाखों लोगों की तुलना में खुशनसीब हैं जो इस हफ्ते (week) जी भी न पायें
यदि आप मैसेज (message) को वाकइ पढ़ सकते हैं और समझ सकते हैं तो आप उन करोड़ों लोगों में खुशनसीब हैं जो देख नहीं सकते और पढ़ नहीं सकते
जीवन के मायने दुःखों की शिकायत (complaint) करने में नहीं हैं बल्कि हमारे निर्माता को धन्यवाद (thanks) करने के अन्य हजारों कारणों (thousand of reasons) में है!!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*