Home » Ayurved » जानिये किन आयुर्वेदिक उपचार से कब्ज में आराम मिलता है | Jaaniye kin ayurvedic upchaar se kabaj mein araam milta hai.
dharmik
dharmik

जानिये किन आयुर्वेदिक उपचार से कब्ज में आराम मिलता है | Jaaniye kin ayurvedic upchaar se kabaj mein araam milta hai.




जानिये किन आयुर्वेदिक उपचार से कब्ज में आराम मिलता है | Jaaniye kin ayurvedic upchaar se kabaj mein araam milta hai.

क्या  आपका पेट (Stomach) अक़सर ठीक तरह से साफ नहीं होता है तो इसका मतलब आपको कब्ज (Constipation) हो सकता है और आपके शरीर में तरल पदार्थ की कमी है। कब्ज के दौरान आप खुद में तरोजाता महसूस नहीं कर पाते। कब्ज का यदि ठीक समय पर इलाज (Treatment) न कराया जाए तो ये एक भयंकर बीमारी (Dangerous Disease) का रूप ले सकता है। कब्ज होने पर व्यक्ति को पेट संबंधी दिक्कूते जैसे पेट दर्द होना, ठीक से फ्रेश होने में दिक्कत होना, शरीर का मल पूरी तरह से न निकलना, पेट फूलना इत्यांदि होती हैं। कब्ज के लिए प्रभावी प्राकृतिक उपचार तो मौजूद है ही साथ ही आयुर्वेदिक उपचार के माध्यम से भी कब्ज को दूर किया जा सकता है। आइए जानिये कब्ज के लिए कौन-कौन से आयुर्वेदिक उपचार मौजूद हैं।
– दरअसल, पानी और तरल पदार्थों (Liquid Diet) की कमी कब्ज का मुख्य कारण है। तरल पदार्थों की कमी से मल आंतों में सूख जाता है और मल निष्कासन में अत्यधिक जोर लगाना पडता है। जिससे कब्ज रोगी को खासी परेशानी होने लगती है जिसमें पेट दर्द मुख्य है
– कब्ज के रोगी को तरल पदार्थ व सादा भोजन जैसे दलिया, खिचड़ी इत्यादि खाने को दी जानी चाहिए
कब्जं होने पर दिन में बहुत सारा पानी पीने (Drink Water) की सलाह दी जाती है, इसके अलावा गर्म पानी (Hot Water) पीने के लिए भी डॉक्टर्स सलाह देते हैं।
– कब्ज के दौरान कई बार सीने में भी जलन होने लगती हैं। ऐसे में एसीडिटी (Acidity) भी हो जाती है और कब्ज होने पर शक्कर और घी को मिलाकर खाली पेट खाना चाहिए इस से काफ़ी आराम मिलता है
– हरी सब्जियों और फलों जैसे पपीता, अंगूर, अमरूद, टमाटर, चुकंदर, अंजीर फल, पालक का रस या कच्चा पालक, किश्मिश को पानी में भिगोकर खाने, रात को मुनक्का खाने से कब्ज दूर करने में मदद मिलती है।
– डॉक्टर्स (Doctors) कब्ज को दूर करने के लिए अकसर इसबग़ोल की भूसी खाने की सलाह देते हैं। इसे रात को सोने से पहले गर्म दूध में या फिर पानी में घोल कर भी पिया जाता है।
खाने में हरे पत्तेदार सब्जियों (Green Vegetables) के अलावा रेशेदार सब्जियों का सेवन खासतौर पर करना चाहिए। इससे शरीर में तरल पदार्थों में बढ़ोत्तनरी होती है।
– चिकनाई वाले पदार्थ भी कब्ज के दौरान लेना अच्छा रहता है।
गर्म पानी और गर्म दूध (Hot Milk) कब्ज को दूर करता है। रात को गर्म दूध में अरंडी का तेल डालकर पीना कब्ज को दूर करने में बहुत कारगार सिद्ध होता है।
– नींबू को पानी में डालकर पीने, दूध में घी डालकर पीने, गर्म पानी में शहद डालकर पीने, सुबह-सुबह गर्म पानी पीने से, इन सब तरीका से कब्ज को दूर करने में बहुत मदद मिलती है।
– अलसी के बीजों का पाउडर (powder) पानी के साथ और दो सेव फ़ल खाने से कब्ज‍ भगाने में मदद मिलती हैं।
इस तरह से प्रभावी प्राकृतिक उपचार और आयुर्वेदिक उपचार (Ayurvedic Treatment)  के माध्यक से कब्ज को स्थायी रूप से आसानी से दूर किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*