Home » Tantra Mantra » जानिये प्रेम में सफलता, वशीकरण के आसान उपाय / टोटके| Jaaniye prem mein safalta, vashikaran ke asaan upaaye / totke
dharmik
dharmik

जानिये प्रेम में सफलता, वशीकरण के आसान उपाय / टोटके| Jaaniye prem mein safalta, vashikaran ke asaan upaaye / totke




जानिये प्रेम में सफलता, वशीकरण के आसान उपाय / टोटके| Jaaniye prem mein safalta, vashikaran ke asaan upaaye / totke

दोस्तों (friends) यहाँ पर बताये गए प्रयोगों द्वारा आप निश्चित ही किसी भी वर या कन्या को अपने पक्ष में कर सकते हैं, उसके दिल में अपनी जगह बना सकते है परन्तु इनका प्रयोग तभी करना चाहिए जब आपका प्रेम सच्चा हो आपकी उसके प्रति भावना निश्चल हो, आप उसके योग्य हो और आपको लगता हो की आप उसे प्रसन्न (happy) रख पाएंगे …..ध्यान रहे इससे किसी का भी अहित करने की भावना से प्रयोग करना सर्वथा गलत (purely wrong) होगा !

जब भी किसी को प्रेम करें तो याद रखें कि संयम और प्रतीक्षा सबसे उत्तम उपाय है

1. ईश्वर से सच्चे मन से अपने प्रेम के लिए प्रार्थना (prayer) करनी चाहिए ।

2. भगवान विष्णु और लक्ष्मी (bhagwan shri vishnu ji and lakshmi mata ji) की मूर्ति या फोटो के सम्मुख शुक्ल पक्ष में गुरुवार से ” ऊँ लक्ष्मी नारायणाय नमः।’‘मन्त्र की 3 माला प्रतिदिन स्फटिक की माला से जप करें और 3 महीनों तक हर गुरुवार (every thursday) को मंदिर में प्रसाद चढ़ायें।

3. कृष्ण मंदिर (krishan mandir) में बांसुरी और पान अर्पण से प्रेम की प्राप्ति होती है ।

4. यदि आप किसी को अपना बनाना चाहते हैं तो माँ दुर्गा (durga mata) की की पूजा करे माता को लाल रंग की ध्वजा चढ़ाएं व प्रेम में सफलता की मनोकामना मांगें।

5. शहद से रुद्राभिषेक करने से मनचाहा प्रेम मिलता है ।

6. सोलह सोमवार के ब्रत से योग्य, सुन्दर, सुशील और प्रेम करने वाला जीवन साथी (life partner) मिलता है ।

7. प्रेम-विवाह (love marriage) में सफलता के लिए शुक्ल पक्ष में प्राण प्रतिष्ठत असली नेपाली गौरी-शंकर रुद्राक्ष, वाइट गोल्ड में धारण करें |

8. ओपल या हीरा रत्न धारण कर से प्रेम-संबंधों (love relations) को विवाह तक पहुंचाने में सहायता मिलती है।

9. यदि प्रेमी/प्रेमिका में से कोई एक मांगलिक हैं और प्रेम-विवाह में बाधा आ रही है तो तो विवाह की लिए पुन: विचार करें नहीं तो मंगल दोष का तत्काल निवारण अवश्य ही कर लें, अन्यथा जीवन भर पछताना पड़ सकता है।

10. सप्तमेश या सप्तम भाव में विराजमान ग्रह की शांति अवश्य करा लें।

11. एक-दूसरे को नुकीली या काले रंग की कोई वस्तु कभी भी न दें | इससे संबंध खराब होने की संभावना होती है।

12. गिफ्ट (gift) में कभी भी काले रंग की कोई वस्तु एक-दूसरे को न दें। इससे आपस में दूरियां हो सकती है।

13. अपने प्रियतम/प्रेयसी को हीरा भेंट (diamond gift) करना बहुत ही शुभ होता है, हीरे के स्थान पर अमरीकन डायमण्ड (american diamond) भी उपहार में दे सकते है लेकिन याद रहे वह काला या नीला न हो।

14. लाल,गुलाबी,पीले और सुनहरे पीले रंग की वस्तुओं को उपहार में देना अत्यंत श्रेष्ठ माना गया है।

15. कन्या अधिकतर अपने हाथों में हरी चूडिय़ां (green bangles) तथा प्रत्येक गुरुवार को पीले और शुक्रवार को सफेद वस्त्र पहनें।

16. लड़के को प्रेम में सफलता के लिए पन्ना (emerald- एमरल्ड) की अंगूठी धारण करना चाहिए इससे प्रेयसी के मन में प्रबल आकर्षण बना रहता है ।

17. प्रेमी युगल को शनिवार (saturday) और अमावस्या के दिन नहीं मिलना चाहिए। इन दिनों में मिलने से आपस में किसी भी बात पर विवाद हो सकता है …एक दूसरे की कोई भी बात बुरी लग सकती है तथा प्रेम संबंधो में सफलता मिलने में संदेह हो सकता है।

18. प्रेमी युगल को यह प्रयास करना चाहिए कि शुक्रवार और पूर्णिमा के दिन अवश्य मिलें। जिस शुक्रवार को पूर्णिमा हो वह दिन अत्यंत शुभ रहता है इस दिन मिलने से परस्पर प्रेम व आकर्षण (love and attraction) बढ़ता है।

19. सफ़ेद वस्त्र धारण करके किसी भी धार्मिक स्थान (religious place) पर लाल गुलाब व चमेली का इत्र अर्पित करके अपने प्रेम की सफलता के लिए सच्चे मन से प्रार्थना करें निश्चय ही लाभ होगा।

20. काम व आकर्षण बीज मंत्र का जाप करें। मंत्र- ऊँ क्लीं नम:।

आकर्षण शक्ति बड़ाने के लिए इस मंत्र का जाप करें । ॐ क्लीं कृष्णाय गोपीजन वल्लभाय स्वाहा:

अपने प्रेमी या प्रेमिका को अपने मन में रखकर उपरोक्त मंत्र से राधा-कृष्ण की प्रतिमा, तस्वीर या मंदिर में जाकर सच्चे मन से 108 बार भगवान श्रीकृष्ण की आराधना करें। प्रति शुक्रवार किसी भी राधा कृष्ण के मंदिर में जाकर उनकी प्रतिमा का दर्शन करें उन्हें फूल माला, और मिश्री का भोग लगाएं, अति शीघ्र ही आपके प्रेम विवाह में आ रही हर अड़चन दूर होगी, प्रेम विवाह में अवश्य सफलता मिलेगी।

21. मनचाहे प्रेम विवाह के लिए भगवान श्री कृष्ण का मन्त्र :
भगवान श्री कृष्ण के राधा जी के साथ प्रेममय स्वरुप का ध्यान करें. भगवान के ऐसे चित्र (photo) या मूर्ती को लाल / गुलाबी रंग के गोटेदार वस्त्र पर स्थापित करके धूप, दीप, पुष्प, इत्र मीठा अर्पित करके गुलाबी रंग के आसन पर बैठ कर चन्दन की माला से नित्य एक माला इस मंत्र का जाप करें.

मंत्र- ॐ हुं ह्रीं सः कृष्णाय नम:
मंत्र जाप के पश्चात भगवान को शहद (honey) के छीटे दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*