Home » Gyan » बदनामी से बचना है तो स्त्री पुरुष इस बात का रखें ध्यान | Badnami se bachna hai to ladies and gents in baaton ka rakhe dhyan
dharmik
dharmik

बदनामी से बचना है तो स्त्री पुरुष इस बात का रखें ध्यान | Badnami se bachna hai to ladies and gents in baaton ka rakhe dhyan




बदनामी से बचना है तो स्त्री पुरुष इस बात का रखें ध्यान | Badnami se bachna hai to ladies and gents in baaton ka rakhe dhyan

हर व्यक्ति चाहता (every person needs) है कि उसे समाज में मान-सम्मान (respect) मिले। लेकिन कई लोगों के जीवन में कुछ ऐसे हालात (situation) बन जाते हैं कि उन्हें बार-बार बदनामी का सामना करना पड़ता है। इसका एक कारण उनका घर और उसका वास्तु होता है।

1. जिस जमीन पर आपका घर है उसकी उत्तर दिशा और ईशान कोण ऊंचे हों और अन्य दिशा नीचे हों तो भूमि के स्वामी (land owner) को बदनामी का सामना करना पड़ता है।

2. जिस घर के आग्नेय कोण में बहुत ज्यादा मात्रा में खाद्य पदार्थ (eating products) रखे जाते हैं। किसी भी रुप में अधिक मात्रा में पानी का जमाव हो जैसे वॉटर टैंक, अंडरग्राउंड वॉटर टैंक (underground water tank) तो उस घर में रहने वाले व्यक्ति की कन्या को बदनामी का सामना करना पड़ता है।

3. जिनके घर में दक्षिण-नैऋत्य कोण बढ़ा हुआ होता है उनके घर में स्त्रियों को बदनामी के कारण कष्ट होता है। घर का पश्चिम-नैऋत्य कोण बढ़ा हुआ हो तो पुरुषों की बदनामी होती है।

4. घर में दक्षिण दिशा बढ़ा हुआ हो और पश्चिम नैऋत्य से मिलकर कोने का निर्माण करता है तो यह स्त्री पुरुष दोनों की बदनामी की संभावना (possibility) को बढ़ाता है।

5. घर के मुख्यद्वार (main gate) की चैखट काले रंग की हो या उस पर काला रंग (black color) किया गया हो तो घर के मुखिया के साथ धोखा होता है, उस पर झूठे आरोप लगते हैं।

6. घर के मुख्यद्वार के साथ सीधे हाथ की खिड़की के पास टूटी-फूटी हालत में दीवार (broken wall) हो, प्लास्टर उखड़ा हुआ हो या खिड़की टूटी हुई हो तो मरम्मत करवा लेनी चाहिए। ऐसा नहीं होने से घर के मुखिया को समाज में मानहानि का सामना करना पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*