Home » Bhajan » मेरे मन में हैं राम मेरे तन में है राम | Mere mann mein hai Shri Ram ji mere tan mein hai Shri Ram ji
dharmik
dharmik

मेरे मन में हैं राम मेरे तन में है राम | Mere mann mein hai Shri Ram ji mere tan mein hai Shri Ram ji




मेरे मन में हैं राम मेरे तन में है राम  |  Mere mann mein hai Shri Ram ji mere tan mein hai Shri Ram ji

मेरे मन में हैं राम मेरे तन में है राम
मेरे मन में हैं राम मेरे तन में है राम ।
मेरे नैनों की नगरिया में राम ही राम ॥

मेरे रोम रोम के हैं राम ही रमैया ।
सांसो के स्वामी मेरी नैया के खिवैया ।
गुन गुन में है राम झुन झुन में है राम ।
मेरे मन की अटरिया में राम ही राम ॥

जनम जनम का जिनसे है नाता
मन जिनके पल छिन गुण गाता ।
सुमिरन में है राम दर्शन में है राम
मेरे मन की मुरलिया में राम ही राम ॥

जहाँ भी देखूँ तहाँ राम जी की माया
सबही के साथ श्री राम जी की छाया ।
त्रिभुवन में हैं राम हर कण में है
राम सारे जग की डगरिया में राम ही राम ॥

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*