Home » Gyan » यह है 8 भारतीय विशाल गुफाएं जो है खूबसूरती की अनोखी मिसाल|| yeh hai 8 bhartiya vishal gufaye jo hai khoobsurati ki anokhi misaal
dharmik
dharmik

यह है 8 भारतीय विशाल गुफाएं जो है खूबसूरती की अनोखी मिसाल|| yeh hai 8 bhartiya vishal gufaye jo hai khoobsurati ki anokhi misaal




यह है 8 भारतीय विशाल गुफाएं जो है खूबसूरती की अनोखी मिसाल|| yeh hai 8 bhartiya vishal gufaye jo hai khoobsurati ki anokhi misaal

इसमें कोई दो राय नही है के भारत (Bharat-India) सुंदरता (Beautiful) और विविधताओं का देश है। इसकी विशेषताओं के बारे में जितना बताया जाए उतना ही कम होगा। यहां की प्राकृतिक सुंदरता (Beautiful Nature) और प्राचीन गुफाएं (Caves) पहले भी और आज भी लोगों को आश्चर्यचकित कर देती हैं। देश की गुफाएं यहां के इतिहास की असली कहानी कहती हैं। आज हम आपको भारत की कुछ ऐसी ही ऐतिहासिक (Historical) गुफाओं के बारे में बताने जा रहे हैं। इन गुफाओं में आप बच्चों और फैमिली के साथ घूमने के लिए जा सकते हैं।

अंजता की गुफाएं

महाराष्ट्र (Maharastra) के औरंगाबाद (Aurangabad) में देश की सबसे खूबसूरत और बड़ी गुफाओं में से एक है यह अजंता कि गुफा (Ajanta Caves)। इन गुफाओं की दीवारो पर बहुत सुंदर पेंटिंग्स (Beautiful Paintings) बनी हुई हैं, जो प्राचीन मनुष्य की कला का अनूठा उदाहरण देती हैं। भारत की अजंता और एलोरा की गुफाओं की कलाकृतियों दुनिया भर के पर्यटकों का मन मोह लेती हैं। ये बौद्ध काल के समय की बताई जाती हैं। महाराष्ट्र की दूसरी फेमस गुफाएं हैं कारला, भाजा और कन्हेरी। एलोरा (Elora) और एलिफेंटा (Elephanta) तो दुनिया भर में मशहूर गुफाओं में से एक मानी जाती हैं।

बाघ गुफाएं
मध्य प्रदेश (madhya Pradesh) में विध्यांचल (Vidyanchal) की दक्षिणी ढलानों के बीच में स्थित है बौद्ध रॉक कट गुफा (Bagh Caves) । यह गुफा फेमस नौ रॉक कट पहाड़ों में से एक है, जिन पर बहुत कि खूबसूरत पेंटिंग्स बनायी गई हैं, जिसे ‘रंग महल’ और ‘प्लेस ऑफ कलर’ के नाम से भी जाना जाता है। मध्य प्रदेश में इन गुफाओं के अलावा भीमबेटका और विदिशा में स्थित उदरयगिरी गुफाएं भी काफी प्रसिद्ध हैं।

उदयगिरी गुफाएं
उदयगिरी की गुफाएं (Udaigiri Caves) आदिवासी बहुल राज्य ओडिशा (Odisha) में भुवनेश्वर (Bhuvaneshwar) के निकट स्थित हैं। उदरयागिरी गुफा और खंडगिरी गुफा 33 पहाड़ों को काटकर बनाई गई गुफा हैं। ये अपने कक्षों, मूर्तियों और दीवारों पर की गई चित्रकारी के लिए जाना जाता हैं। बेहद आकर्षक इन दोनों गुफाओं से कई धार्मिक मान्यताएं भी जुड़ी हैं जिनके बारे में आप वहा के लोगो से जान सकते है।

बादामी गुफा
यह सुंदर और नक्काशीदार गुफा कर्नाटक के बादामी नामक स्थान पर स्थित है। बादामी की चार गुफाओं में से दो गुफाएं भगवान श्री विष्णु जी (Shri Vishnu Ji) , एक भगवान श्री शिव जी (Shri Shivji) और एक जैन धर्म से संबंधित बताई जाती हैं। पहाड़ों को काट कर लाल पत्थर से बनायी गई ये गुफाएं अपनी सुंदरता के लिए जानी जाती हैं। पत्थरों में की गयी नक्काशी को देखकर हर कोई मंतर मुग्ध हो जाता है। इसके अलावा, कर्नाटक (Karnatka) में एहिलो गुफा भी आकर्षण का केंद्र है।

बाराबर गुफाएं
बाराबर गुफाएं (Baarabar Caves) बिहार (Bihar) के गया (Gaya) जिले में स्थित हैं। ये गुफाएं बाराबर की दो पहाड़ियों में बनी हुई हैं। यहां कुल चार गुफाएं हैं और नागार्जुन (Nagarjuna) की पहाड़ियों में तीन गुफाएं हैं। ये गुफाएं देश की सबसे प्राचीन गुफाओं में से हैं। यहां अद्भुत कलाकृतियां भी मिलती हैं। इन गुफाओं के अलावा, सुदामा और सोनभद्रा भी बिहार की प्रसिद्ध गुफाओं में से एक मानी जाती हैं।

बॉर्रा गुफा
यह गुफा आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के विशाखापट्ट्नम (Vishakhapattnam) जिले में अराक वैली (Arak Valley) की अनंतगिरी पहाड़ी में स्थित है। यह गुफा विशाखापट्टनम के बेस्ट टूरिस्ट प्लेसेस (Best Tourist Places) में शामिल है। इस गुफा में आपको भगवान शिवजी का शिवलिंग मिलेगा, जिसकी पूजा आस-पास के आदिवासी लोग करते हैं। आंध्र प्रदेश की बेलम और उंडावल्ली गुफाएं फेसम गुफाओं में से हैं।

एडाक्कल गुफा
केरल (Keral) के वेयाड की अंबुकुथी हिल्स (Ambukutthi Hills) में स्थित यह दो प्राकृतिक गुफाएं हैं। एडाक्कल (Edakkal) की ये दोनों गुफाएं पवित्र स्थलों के रूप में प्रसिद्ध हैं और इनकी बहुत मान्यता है। एडाक्कल गुफा का मतलब होता है ‘पत्थरों के बीच’, जो प्राकृतिक सुंदरता को दर्शाता है।

जोगीमारा गुफा
छत्तीसगढ़ (Chhatishgarh) में आपको देखने के लिए घने जंगल, वन्य जीव, आदिवासी और प्राकृतिक सुंदरता प्रचुर मात्रा में मिलेगी। सीताबेग गुफा सरगुजा जिले के अंबिकापुर की रामगढ़ पहाड़ियों में स्थित है। दरअसल, ये दो गुफाएं हैं। एक सीताबेंग और दूसरी जोगीमारा। यहां तक पंहुचने के लिए आपको प्राकृतिक टयूनल हतिपल नामक रास्ते से जाना होगा। छत्तीसगढ़ के पहाड़ी इलाकों और घने जंगल से होते हुए ही आप कैलाश गुफा, दंडक गुफा और कुटुमसर गुफा (जो कांगड़ वैली के नेशनल पार्क के पास है) तक पहुंच सकते हैं।

तो यह है भारत देश की अद्भुत गुफाओं के बारे में एक लेख|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*