Home » Gyan » शराब छुड़ाने के उपाय – Sharab Churrane ke Upaye
dharmik
dharmik

शराब छुड़ाने के उपाय – Sharab Churrane ke Upaye




शराब छुड़ाने के उपाय- Sharab Churrane ke Upaye

यदि कोई व्यक्ति बहुत ज्यादा शराब पीता (too much drinking) है तो उसकी पत्नी मंगल या शनिवार (saturday) को चरखा चलाए।जो व्यक्ति जरूरत से ज्यादा शराब का सेवन करता है तो उसकी पत्नी अपने पैरों के बिच्छुए को पानी से धोकर तथा शराब की बोतल (bottle of wine) में से थोड़ी सी शराब लेकर उसमें अपने बिच्छुए डाल दे। त्रयोदशी या पूर्णमाशी के दिन वह शराब निकाल कर दूसरी किसी शराब की बोतल में डाल दें। ऐसा पांच मंगलवार (tuesday) या शनिवार करने से शराब पीने की लत छूट जाती है।जो जातक शराब का सेवन अधिक करता है तो उसके लिए सात पताशे लेकर प्रत्येक पताशे में सरसों के तेल की दो-चार बूंदे डालकर फिर बताशे को हाथ से मसलकर घर से बाहर कहीं दूर जाकर फेंक दें। ऐसा 11 दिन लगातार करने से शराब पीने की लत छूट जाती है।

शराब छुड़ाने का उपाय

जब शराब पीने की इच्छा हो तब किशमिश का १-१ दाना मुंह में डालकर चूसें किशमिश का शरबत पीने से भी दिमाग को ताकत (strength to brain) मिलेगी और धीरे-धीरे शराब छोड़ने की क्षमता आ जायेगी l साथ ही इस मंत्र का जप करें : – ” ॐ ह्रीं यं यश्वराये नमः “ अथवा जब शराबी निद्रा में हो तो कुटुम्बी उसकी चोटी वाले भाग में देखते हुए मन ही मन इसका जप करें

सोने-चांदी का काम करने वाले सोनारों (jeweler) के पास से शुद्ध गंधक का तेज़ाब यानि कि सल्फ़्युरिक एसिड ले आइए और आप जो शराब पीने जा रहे हैं उसके बने हुए पैग में चार बूंद यह तेज़ाब डाल दीजिए और जैसे सेवन करते है वैसे ही पीजिए और आप देखेंगे कि धीरे-धीरे आपकी शराब पीने की इच्छा अपने आप ही कम होने लगी है । इसी क्रम में आप एक दिन खुद ही शराब के प्रति अरुचि महसूस करने लगेंगे और पीना अपने आप छूट जाएगा ,ध्यान रखिए कि आप और कोई उपाय न करें बस खाने पर ध्यान दें कि स्वास्थ्यवर्धक आहार लें ।दूसरा यह कि शिमला मिर्च(कैप्सिकम-capsicum) जो कि मोटी-मोटी होती हैं व खाने में तीखी नहीं होती व सब्जी (vegetables) बनाने में प्रयोग करी जाती हैं ,ले लीजिए और उनका जूसर (juicer) से रस निकाल लीजिए व इस रस का सेवन दिन में दो बार आधा कप नाश्ते या भोजन के बाद करें । आप चमत्कारिक रूप से पाएंगे कि आपकी शराब की तलब अपने आप घटने लगी है और एक दिन आप खुद ही पीने से इंकार कर देते हैं चाहे कोई कितना भी दबाव क्यों न डाले ।

ये दोनो उपाय सन्यासियों के आजमाए हुए हैं जोकि लोगों की शराब छुड़ाने के प्रसिद्ध रहे हैं। आप यकीन (trust it) मानिये कि इन सरल से उपायों से चालाक किस्म के लोग मजबूर शराबियों की आदत छुड़ाने की दवा के रूप में देकर लाखों रुपए कमाते हैं लेकिन आयुषवेद परिवार चूंकि सेवा के लिये कटिबद्ध है इसलिये हमारा उद्देश्य मात्र आपको सही सलाह देना है। यदि आपको कोई आयुर्वेदिक औषधि जो कि आयुषवेद की तरफ से बतायी गयी है और आपके क्षेत्र में नहीं मिल रही है तो हम उसे आपके आदेश पर बना कर मात्र उत्पादन मूल्य पर स्पीड पोस्ट से आप तक पहुंचा देते हैं।

तो अपनी शराब में यह होम्योपैथिक दवा प्रति लीटर में बारह बूंद मिला कर रख लें और यकीन मानिए कि जो लोग आपके साथ शराब पीते हैं वे दो महीने में खुद ही शराब पीना बंद कर देंगे,दवा का नाम है SPIRTAS GLANDIUM QUERCUS . यह वही दवा (medicine) है जिसका प्रचार कर-करके तमाम दवाखानों ने करॊड़ो रुपए (millions of rupees) कमा लिए हैं । हम किस दवा कए बाद जब शराबी की आदत छूट जाती है तो उसे दो माह तक सुबह शाम दो-दो चम्मच गुलकन्द (प्रवाल मिश्रित) खिलाते हैं और इसके बीस मिनट बा्द दो चम्मच अश्वगंधारिष्ट बराबर पानी के साथ देते हैं । इससे उसका खोया स्वास्थ्य (lost health) वापस आ जाता है । आप भी इसी तरह से अपनी टूटती हुई कसमों से बच सकते हैं और यदि नियमित रूप से प्राणायाम करते हैं तो फिर तो सोने में सुगंध (smell in the gold) जैसी बात है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*