Home » Desi Nuskhe » स्वस्थ शरीर है सबसे बड़ा खजाना|Swasth shareer hai sabse bada khajana
dharmik
dharmik

स्वस्थ शरीर है सबसे बड़ा खजाना|Swasth shareer hai sabse bada khajana




स्वस्थ शरीर है सबसे बड़ा खजाना|Swasth shareer hai sabse bada khajana

आधुनिक जीवन शैली की तेज रफ्तार एवं भागदौड़ भरी जिंदगी में सेहत का विषय (topic of health) बहुत पीछे रह गया है और नतीजा यह निकला की आज हम युवावस्था (younger age) में ही ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, ह्रदय रोग, कोलेस्ट्रोल, मोटापा, गठिया, थायरॉइड जैसे रोगों से पीड़ित होने लगे हैं जो कि पहले प्रोढ़ावस्था एवं व्रद्धावस्था में होते थे और इसकी सबसे बड़ी वजह है खान पान और रहन सहन की गलत आदतें (bad habits) , आओ हम सेहत के इन् नियमों का पालन करके खुद भी स्वस्थ रहे तथा परिवार (family) को भी स्वस्थ रखते हुए अन्य लोगों को भी अच्छे स्वास्थय के लिए जागरूक करें ताकि एक स्वस्थ एवं मजबूत समाज और देश का निर्माण हो,क्योंकि कहा भी गया है-पहला सुख निरोगी काया l

भोजन हो संतुलित- घी,तैल से बनी चीजें जैसे पूड़ी,पराँठे,छोले भठूरे,समोसे कचौड़ी,जंक फ़ूड (junk food),चाय,कॉफी ,कोल्ड ड्रिंक (cold drink) का ज्यादा सेवन सेहत के लिए घातक है इनका अधिक मात्रा में नियमित सेवन ब्लड प्रेशर(blood pressure), कोलेस्ट्रोल,मधुमेह,मोटापा एवं हार्ट डिजीज (heart diseases) का कारण बनता है तथा पेट में गैस,अल्सर,ऐसीडिटी (acidity),बार बार दस्त लगना,लीवर ख़राब होना जैसी तकलीफें (problems) होने लगती हैं इनकी बजाय खाने में हरी सब्जियां,मौसमी फल, दूध, दही, छाछ,अंकुरित अनाज और सलाद को शामिल करना चाहिए जो की विटामिन (vitamins) ,खनिज लवण,फाइबर,एव जीवनीय तत्वों से भरपूर होते हैं और शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं|

चीनी एवं नमक (sugar and salt) का अधिक मात्रा में सेवन ना करें,ये डायबिटीज,ब्लड प्रेशर (blood pressure),ह्रदय रोगों का कारण हैं l

बादाम,किशमिश,अंजीर,अखरोट आदि मेवा सेहत के लिए बहुत लाभकारी (gainful) होते हैं इनका सेवन अवश्य करें

पानी एवं अन्य लिक्विड जैसे फलों का ताजा जूस,दूध,दही,छाछ,नींबू पानी,नारियल पानी (coconut water) का खूब सेवन करें,इनसे शरीर में पानी की कमी नहीं हो पाती,शरीर की त्वचा एवं चेहरे पर चमक आती है,तथा शरीर की गंदगी पसीने और पेशाब (urine) के दवारा बाहर निकल जाती है l

व्यायाम का करें नियमित अभ्यास– सूर्योदय (sunrise) से पहले उठकर पार्क जाएं,हरी घास पर नंगे पैर घूमें,दौड़ लगाएं,वाक करें,योगा,प्राणायाम करें,इन उपायों से शरीर से पसीना निकलता है,माँस पेशियों को ताकत (power to muscles) मिलती है,शरीर में रक्त का संचार बढ़ता है,अनेक शारीरिक एवं मानसिक रोगों (mental illness) से बचाव होता है,पूरे दिन भर बदन में चुस्ती फुर्ती रहती है,भूख अच्छी लगती है इसलिए नियमित रूप से व्यायाम (daily routine exercise) अवश्य करें l

गहरी नींद भी है जरुरी –शरीर एवं मन को स्वस्थ रखने के लिए प्रतिदिन लगभग 7 घंटे की गहरी नींद (take deep sleep) एक वयस्क के लिए जरुरी है,लगातार नींद पूरी ना होना तथा बार बार नींद खुलना,अनेक बीमारियों का कारण बनता हैl

अच्छी नींद के लिए ये उपाय करें- सोने का कमरा साफ सुथरा,शांत एवं एकांत में होना चाहिए,रात को अधिकतम 10-11 बजे तक सो जाना और सुबह 5-6 बजे तक उठ जाना स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है,सोने से पहले शवासन करने से अच्छी नींद (good sleep) आती है,खाना सोने से 2-3 घंटे पहले कर लेना चाहिए एवं शाम को खाना खाने के बाद 20-25 मिनट अवश्य घूमें l

टेंशन को कहें बाय बाय – रोज मर्रा की जिंदगी में आने वाली समस्यों के लिए चिंतन करना सही है चिंता करना नहीं,चिता तो फिर भी मरने के बाद शरीर को जलाती है किन्तु लगातार अनावश्यक चिंता जीते जी शरीर को जला देती है इसलिए तनाव (stress) होने पर भाई,बंधू एवं विश्वास पात्र मित्रों से सलाह मश्वरा (suggestions) करें यदि समस्या फिर भी ना सुलझे तो विशेषज्ञ (specialist) से राय लें l

नशे से रहें बच के- यूवा पीढ़ी के लिए कोई सबसे खतरनाक बीमारी है तो वो है नशे के जाल में फँसना,शराब (drinking),धूम्रपान (smoking),तम्बाकू ये सब सेहत के दुश्मन (enemy of health)हैं,किसी भी स्थिति में नशे की लत से बचें,यदि नशे से बचे हुए हैं तो बहुत अच्छा किन्तु,यदि कोई नशा करते हैं तो जितनी जल्दी नशे से दुरी बना लें उतना ही अच्छा है,ये ऐसी बीमारी है जो कैंसर और एड्स (cancer and aids) से भी ज्यादा खतरनाक है और एकसाथ कई परिवारों को बर्बाद (finishes the whole family) करती है तथा शारीरिक,मानसिक,आर्थिक एवं सामाजिक प्रतिष्ठा के नाश का कारण बनती है,इसलिए नशे से बचना ही बेहतर उपाय है l

स्वास्थय के ऊपर बताये हुए नियमों का पालन अवश्य (follow the upside given rules) करें क्योकि कहा भी गया है- हैल्थ इज वैल्थ l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*