Home » Ayurved (page 5)

Ayurved

करेला कैसे खाये – karela kaise khaaye

dharmik

करेला कैसे खाये – karela kaise khaaye हमारे शरीर में छ: रस चाहिए – मीठा, खट्टा, खारा, तीखा, कषाय और कड़वा | पांच रस, खट्टा/खारा/तीखा, तो बहुत खाते हैं लेकिन कड़वा नहीं खाते हैं | कड़वा कुदरत (nature) ने करेला बनाया है लेकिन करेले को निचोड़ के उस की कड़वाहट निकाल देते हैं | करेले का छिलका नहीं उतारना चाहिए और ...

Read More »

आम – aam – mango

dharmik

 आम- aam – mango 1. ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है आम में प्रचूर मात्रा में विटामिन (vitamin) पाए जाते हैं, जिससे स्वास्थ्य अच्छा बना रहता है। हाई ब्लड प्रेशर (high blood pressure) के रोगी के लिए आम एक प्राकृति उपचार है, क्योंकि इसमें पोटेशियम (potassium- 156 मिलीग्राम में 4 प्रतिशत) और मैग्निशियम (9 मिलीग्राम में 2 प्रतिशत) भारी मात्रा ...

Read More »

केले के बारे में आप जो जानते हैं, वो नाकाफी है, ये हैं खास नुस्खे – Kele ke baare mein aap jo jaante hai wo nakafi hai yeh hai khaas nuskhe

dharmik

केले के बारे में आप जो जानते हैं, वो नाकाफी है, ये हैं खास नुस्खे – Kele ke baare mein aap jo jaante hai wo nakafi hai yeh hai khaas nuskhe केले के बारे में आप जितना जानते हैं, वो नाकाफी है, क्योंकि करीब 10000 सालों से केला मनुष्य के जीवन का एक अभिन्न हिस्सा (important part) है। दुनिया के अनेक ...

Read More »

भोजन करते वक्त इन बातों का ध्यान रखना जरूरी – Bhojan karte waqt in baaton ka dhyan rakhna zaroori

dharmik

भोजन करते वक्त इन बातों का ध्यान रखना जरूरी… – Bhojan karte waqt in baaton ka dhyan rakhna zaroori सनातन धर्म (sanatam dharma) ने हर एक हरकत को नियम में बांधा है और हर एक नियम (rule) को धर्म में। ये नियम ऐसे हैं जिससे आप किसी भी प्रकार का बंधन महसूस नहीं करेंगे, बल्कि ये नियम आपको सफल और ‍निरोगी ...

Read More »

क्या खाएं और क्या न खाएं, जानिए – kya khaaye aur kya na khaaye jaaniye

dharmik

क्या खाएं और क्या न खाएं, जानिए kya khaaye aur kya na khaaye jaaniye भोजन मानव को निरोगी भी रखता है और रोगी भी रखता है इसीलिए हिन्दू धर्म (hindu religion) में योग और आयुर्वेद के नियमों (rules of ayurveda) पर चलने के धार्मिक नियम (spiritual rules) बनाए गए हैं। सेहत से जुड़े सभी तत्वों को हमारे ऋषियों ने धर्म के ...

Read More »

परंपरागत सब्जियों से हटकर खाएं इन 10 चमत्कारिक सब्जियां को | Paramparagat sabjiyo se hatlar khaaye in 10 chamatkarik sabjoyi ko

dharmik

परंपरागत सब्जियों से हटकर खाएं इन 10 चमत्कारिक सब्जियां को | Paramparagat sabjiyo se hatlar khaaye in 10 chamatkarik sabjoyi ko सब्जियां खाना अमृततुल्य है। सब्जियां (vegetables) केवल 3 प्रकार की होती हैं, जैसे कि– जड़ीय सब्जियां, पत्तेदार सब्जियां और मूल सब्जियां। हालांकि और भी कई प्रकार हैं। आप भरपूर आलू और टमाटर खाते हैं। इसके अलावा पत्ता गोभी, फूल ...

Read More »

तुलसी के प्रयोग से करें स्वाइन फ्लू का बचाव | Tulsi ke prayog se kare swine flu ka bachav

dharmik

तुलसी के प्रयोग से करें स्वाइन फ्लू का बचाव | Tulsi ke prayog se kare swine flu ka bachav आमतौर पर ये देखने में आता है कि स्वाइन फ्लू के लक्षण बहुत ही साधारण बीमारी (normal infection) जैसे ही होते हैं सर्दी, खांसी और बुखार, परंतु ये लक्षण कभी-कभार जानलेवा भी हो सकते हैं। स्वाइन फ्लू (एच1 एन1 फ्लू वायरस) अधिकांश ...

Read More »

पढ़ें 10 खास गुण गुणकारी मैथीदाना के| pade 10 khaas gunn Gunnkari methidana ke

dharmik

 पढ़ें 10 खास गुण गुणकारी मैथीदाना के| pade 10 khaas gunn Gunnkari methidana ke भारतीय घरों (indian homes) में आमतौर पर इस्तेमाल किए जाने वाला मैथीदाना पोषक तत्वों की खान है। मैथीदाने के अलावा, मैथी की भाजी भी घरों को उपयोग की जाती है। मैथी की भाजी में फायबर (fiber) भरपूर होते हैं और पेट संबंधी तकलीफों (good in stomach ...

Read More »

एलर्जी: कारण, लक्षण एवं उपचार | Allergy: Kaaran lakshan evam upchaar

dharmik

एलर्जी: कारण, लक्षण एवं उपचार  |  Allergy: Kaaran lakshan evam upchaar एलर्जी या अति संवेदनशीलता आज की लाइफ में बहुत तेजी से बढ़ती हुई सेहत की बड़ी परेशानी है (health problem) कभी कभी एलर्जी गंभीर परेशानी का भी सबब बन जाती है जब हमारा शरीर किसी पदार्थ के प्रति अति संवेदनशीलता दर्शाता (showing too much sensitivity) है तो इसे  एलर्जी ...

Read More »

बारिश के मौसम में कैसे रखें अपनी सेहत का ख़याल | Baarish ke mausam mein kaise rakhein apni sehat ka khayal

dharmik

बारिश के मौसम में कैसे रखें अपनी सेहत का ख़याल  |  Baarish ke mausam mein kaise rakhein apni sehat ka khayal इस बार वर्षा ऋतु (rainy season) का आगमन समय से पहले हो गया है। ग्रीष्मकाल के समाप्ति के बाद तपती हुई धरती पर जब बारीश की रिम-झिम बौछारे गिरती है तो वह समस्त सजीव को तरो तजा तो करती ...

Read More »