Home » Kahaniya/ Stories

Kahaniya/ Stories

महाभारत की एक अनसुनी और अनोखी कथा – जब कुरुक्षेत्र मैदान में दिया था महायोद्धा कर्ण ने गुप्त रूप से धनुर्धारि अर्जुन को जीवनदान | mahabharat ki ek ansuni aur anokhi katha- Jab kurukshetra mein diya tha mahayodha karam ne gupt roop se dhanurdhari arjun ko jeevandaan

महाभारत की एक अनसुनी और अनोखी कथा - जब कुरुक्षेत्र मैदान में दिया था महायोद्धा कर्ण ने गुप्त रूप से धनुर्धारि अर्जुन को जीवनदान | mahabharat ki ek ansuni aur anokhi katha- Jab kurukshetra mein diya tha mahayodha karam ne gupt roop se dhanurdhari arjun ko jeevandaan

महाभारत की एक अनसुनी और अनोखी कथा – जब कुरुक्षेत्र मैदान में दिया था महायोद्धा कर्ण ने गुप्त रूप से धनुर्धारि अर्जुन को जीवनदान | mahabharat ki ek ansuni aur anokhi katha- Jab kurukshetra mein diya tha mahayodha karam ne gupt roop se dhanurdhari arjun ko jeevandaan महाभारत के युद्ध (mahabharat war) में कर्ण भले ही अधर्म के पक्ष में ...

Read More »

One Short Motivational Story in Hindi – बदलाव – Change

One Short Motivational Story in Hindi - बदलाव - Change

One Short Motivational Story in Hindi – बदलाव – Change जिन्दगी (life) में बहुत सारे अवसर ऐसे आते है जब हम बुरे हालात का सामना (facing bad situations) कर रहे होते है और सोचते है कि क्या किया जा सकता है क्योंकि इतनी जल्दी तो सब कुछ बदलना संभव नहीं है और क्या पता मेरा ये छोटा सा बदलाव कुछ ...

Read More »

आपका भविष्य आपके किए कार्यों पर निभर्र करता है, अब आपने देखना है के अच्छा चुने या बुरा भविष्य | Your Future Is Depend On What You Are Going To Do Now in the Present

आपका भविष्य आपके किए कार्यों पर निभर्र करता है, अब आपने देखना है के अच्छा चुने या बुरा भविष्य , Your Future Is Depend On What You Are Going To Do Now in the Present

आपका भविष्य आपके किए कार्यों पर निभर्र करता है, अब आपने देखना है के अच्छा चुने या बुरा भविष्य | Your Future Is Depend On What You Are Going To Do Now in the Present Motivation मतलब Motive in Action. अपना लक्ष्य (target) पूरा करने की दिल से चाह होना इसे ही Motivation कहते है. कोई काम करने की अगर ...

Read More »

क्या आपको पता है के सूर्य की प्रतिमा के चरणों के दर्शन नहीं करने , क्योंकि.. | Kya aapko pata hai ke surya ki pratima ke charno ke darshan nahi karne, kyonki..

क्या आपको पता है के सूर्य की प्रतिमा के चरणों के दर्शन नहीं करने , क्योंकि..

क्या आपको पता है के सूर्य की प्रतिमा के चरणों के दर्शन नहीं करने , क्योंकि.. | Kya aapko pata hai ke surya ki pratima ke charno ke darshan nahi karne, kyonki.. देवी-देवताओं के दर्शन मात्र से ही हमारे कई जन्मों के पाप नष्ट हो जाते हैं और अक्ष्य पुण्य प्राप्त होता है। भगवान (bhagwan) की प्रतीक प्रतिमाओं के दर्शन ...

Read More »

एक कहानी – जब श्री नारद जी ने रची माया | Ek kahani – Jab narad muni ji ne rachi maya

dharmik

एक कहानी – जब श्री नारद जी ने रची माया | Ek kahani – Jab narad muni ji ne rachi maya संत-महात्मा सब कहते हैं ये सब माया का बंधन है। सारा संसार माया के वशीभूत है। आखिर ये माया है क्या। हिन्दू धर्म (hindu dharam) के ग्रंथों के अनुसार भगवान विष्णु (bhagwan shri vishnu ji) को मायाधिपति कहा गया ...

Read More »

पढ़ें महाभारत की अद्भुत कथा – ब्राह्मण और दो मुद्राओं का कमाल !! Padhe mahabharat ki adbhut katha -brahman aur do mudrao ka kamaal

dharmik

पढ़ें महाभारत की अद्भुत कथा – ब्राह्मण और दो मुद्राओं का कमाल !! Padhe mahabharat ki adbhut katha -brahman aur do mudrao ka kamaal एक बार श्री कृष्ण (shri krishan ji) और अर्जुन (Arjun) भ्रमण पर निकले तो उन्होंने मार्ग में एक निर्धन ब्राहमण (poor brahman) को भिक्षा मागते देखा.. अर्जुन को उस पर दया आ गयी और उन्होंने उस ...

Read More »

एक कहानी : आप ऐसे पता लगा सकते है के भगवान आपके साथ हैं या नहीं | ek kahaani: aap aise pata lag sakte hai ke bhagwan aapke saath hai ke nahi

dharmik

एक कहानी : आप ऐसे पता लगा सकते है के भगवान आपके साथ हैं या नहीं : ek kahaani: aap aise pata lag sakte hai ke bhagwan aapke saath hai ke nahi जन्म से ठीक (exact before the birth) पहले एक बालक भगवान (bhagwan) से कहता है, ‘‘प्रभु आप मुझे नया जन्म मत दीजिए, मुझे पता है पृथ्वी पर बहुत ...

Read More »

पिता और पुत्र .. जीवन का एक मोड़ | Pita aur putra… jeevan ka ek mod

dharmik

पिता और पुत्र .. जीवन का एक मोड़ | Pita aur putra… jeevan ka ek mod बड़े गुस्से से मैं घर से चला आया .. इतना गुस्सा था की गलती से पापा के ही जूते (father’s shoes) पहन के निकल गया मैं आज बस घर छोड़ दूंगा, और तभी लौटूंगा जब बहुत बड़ा आदमी बन जाऊंगा … जब मोटर साइकिल ...

Read More »

कुछ रोचक और ख़ास बातें वानर राज बालि के बारे में| kuch rochak aur khaas baatein vaanar raj baali ke baare mein

dharmik

कुछ रोचक और ख़ास बातें वानर राज बालि के बारे में| kuch rochak aur khaas baatein vaanar raj baali ke baare mein मित्रो आइये जानते है रामायण (ramayan) के एक प्रमुख पात्र वानर राज बालि से जुडी कुछ रोचक और ख़ास बातें जैसे की आखिर क्यों वानर राज बाली नहीं जा सकता था ऋष्यमूक पर्वत पर ?, आखिर क्यों उसने ...

Read More »

एक अद्भुत कहानी: पिता और पुत्र | Ek adbhut kahani: pita aur putra, father and son

dharmik

एक अद्भुत कहानी: पिता और पुत्र | Ek adbhut kahani: pita aur putra, father and son इस साल मेरा सात वर्षीय बेटा दूसरी कक्षा (class) मैं प्रवेश पा गया …. क्लास मैं हमेशा से अव्वल (top) आता रहा है ! पिछले दिनों तनख्वाह (salary) मिली तो मैं उसे नयी स्कूल ड्रेस (school dress) और जूते (shoes) दिलवाने के लिए बाज़ार ...

Read More »