Home » Mahabharat ki Kahaniya (page 4)

Mahabharat ki Kahaniya

भीम पुत्र घटोत्कच का कंकाल मिला | Shri Bheem putra Ghatokach ka kankaal mila

dharmik

भीम पुत्र घटोत्कच का कंकाल मिला | Shri Bheem putra Ghatokach ka kankaal mila भारत के उत्तरी क्षेत्र (north area) में खुदाई के समय नेशनल ज्योग्राफिक (national geographic – भारतीय प्रभाग) को 22 फुट का विशाल नरकंकाल (huge skeleton) मिला है। उत्तर के रेगिस्तानी इलाके में एम्प्टी क्षेत्र के नाम से जाना जाने वाला यह क्षेत्र सेना के नियंत्रण (army ...

Read More »

गाँधारी का श्राप, श्रीकृष्ण का श्राप स्वीकारना | Gandhari mata ka shraap aur bhagwan shri krishan ji dwara shraap swikar karna

dharmik

गाँधारी का श्राप, श्रीकृष्ण का श्राप स्वीकारना | Gandhari mata ka shraap aur bhagwan shri krishan ji dwara shraap swikar karna दुर्योधन के अंत के साथ ही महाभारत के महायुद्ध (end of war of mahabharat) का भी अंत हो गया । माता गाँधारी दुर्योधन के शव (dead body) के पास खडी फफक-फफक कर रो (crying) रही हैं । पुत्र वियोग ...

Read More »

महाभारत अर्जुन की प्रतिज्ञा | Mahabharat mein Arjun ki Pratigya

dharmik

महाभारत अर्जुन की प्रतिज्ञा  |  Mahabharat mein Arjun ki Pratigya महाभारत का भयंकर युद्ध चल रहा था। लड़ते-लड़के अर्जुन रणक्षेत्र से दूर चले गए थे। अर्जुन की अनुपस्थिति में पाण्डवों को पराजित करने के लिए द्रोणाचार्य ने चक्रव्यूह की रचना की। अर्जुन-पुत्र अभिमन्यु चक्रव्यूह भेदने के लिए उसमें घुस गया। उसने कुशलतापूर्वक चक्रव्यूह के छः चरण भेद लिए, लेकिन सातवें ...

Read More »