Home » Vikram Betal

Vikram Betal

विक्रम बेताल कि कहानियाँ- कौन सी राजकुमारी सबसे कोमल है ? | vikram Baital ki kahaniya – kaun se rajkumari sabse komal hai ?

vikram aur betaal

विक्रम बेताल कि कहानियाँ- कौन सी राजकुमारी सबसे कोमल है ? | vikram Baital ki kahaniya – kaun se rajkumari sabse komal hai ? गौड़ देश में वर्धमान (vardhman) नामक एक नगर था, जिसमें गुणशेखर (gunshekhar) नाम का राजा राज करता था। उसके अभयचन्द्र नाम का दीवान था। उस दीवान के समझाने से राजा ने अपने राज्य में शिव और ...

Read More »

विक्रम बेताल कि कहानियाँ- इनमें से सबसे बडा त्याग किसका – पति का, धर्मदत्त का या चोर का? | Vikram Baital ki kahaniyaInmein se sabse bada tyaag kiska – pati ka, dharamdutt ka ya chor ka ?

Vikram aur betaal

विक्रम बेताल कि कहानियाँ- इनमें से सबसे बडा त्याग किसका – पति का, धर्मदत्त का या चोर का? | Vikram Baital ki kahaniya- Inmein se sabse bada tyaag kiska – pati ka, dharamdutt ka ya chor ka ? मदनपुर नगर (madanpur city) में वीरवर नाम का राजा राज किया करता था। उसके राज्य में एक वैश्य था, जिसका नाम हिरण्यदत्त ...

Read More »

किसका पुण्य बड़ा ? – बेताल पच्चीसी | Kiska punya bada – Betal Pachisi

Vikram aur betaal

किसका पुण्य बड़ा ? – बेताल पच्चीसी | Kiska punya bada – Betal Pachisi मिथलावती नाम की एक नगरी (city) थी। उसमें गुणधिप नाम का राजा राज करता था। उसकी सेवा करने के लिए दूर देश से एक राजकुमार आया। वह बराबर कोशिश करता रहा, लेकिन राजा (king) से उनकी भेंट न हुई। जो कुछ वह अपने साथ लाया था, वह ...

Read More »

सबसे बढ़कर कौन ? – बेताल पच्चीसी | Sabse badkar kaun – Betal Pachisi

vikram aur betaal

सबसे बढ़कर कौन ? – बेताल पच्चीसी | Sabse badkar kaun – Betal Pachisi अंग देश के एक गाँव मे एक धनी ब्राह्मण (rich brahman) रहता था। उसके तीन पुत्र थे। एक बार ब्राह्मण ने एक यज्ञ करना चाहा। उसके लिए एक कछुए (turtle/tortoise) की जरूरत हुई। उसने तीनों भाइयों को कछुआ लाने को कहा। वे तीनों समुद्र (sea) पर पहुँचे। ...

Read More »

सर्वश्रेष्ठ वर कौन – बेताल पच्चीसी | Sarvshreshta var kaun – Betal Pachisi

Vikram aur betaal

सर्वश्रेष्ठ वर कौन – बेताल पच्चीसी | Sarvshreshta var kaun – Betal Pachisi चम्मापुर नाम का एक नगर था, जिसमें चम्पकेश्वर नाम का राजा (king) राज करता था। उसके सुलोचना नाम की रानी (queen) थी और त्रिभुवनसुन्दरी नाम की लड़की। राजकुमारी यथा नाम तथा गुण थी। जब वह बड़ी हुई तो उसका रूप और निखर गया। राजा और रानी को उसके ...

Read More »

पत्नी किसकी ? – बेताल पच्चीसी | Patni kiski | Vikram Betal stories in hindi

Vikram aur betaal

पत्नी किसकी ? – बेताल पच्चीसी | Patni kiski  | Vikram Betal stories in hindi धर्मपुर नाम की एक नगरी (city) थी। उसमें धर्मशील नाम का राजा राज करता था। उसके अन्धक नाम का दीवान था। एक दिन दीवान ने कहा, “महाराज, एक मन्दिर (mandir/temple) बनवाकर देवी को बिठाकर पूजा की जाए तो बड़ा पुण्य मिलेगा।” राजा (king) ने ऐसा ही ...

Read More »

असली वर कौन? – बेताल पच्चीसी | Asli var kaun | vikram Betal stories in hindi

vikram aur betaal

असली वर कौन? – बेताल पच्चीसी | Asli var kaun | vikram Betal stories in hindi उज्जैन (ujjain city) में महाबल नाम का एक राजा रहता था। उसके हरिदास नाम का एक दूत था जिसके महादेवी नाम की बड़ी सुन्दर कन्या (beautiful daughter) थी। जब वह विवाह योग्य हुई तो हरिदास को बहुत चिन्ता होने लगी। इसी बीच राजा ने ...

Read More »

ज्यादा पापी कौन ? – बेताल पच्चीसी | Jyada paapi kaun Betal Pachisi | Vikram Betal Stories in hindi

Vikram aur betaal

ज्यादा पापी कौन ? – बेताल पच्चीसी |  Jyada paapi kaun Betal Pachisi | Vikram Betal Stories in hindi भोगवती नाम की एक नगरी (city) थी। उसमें राजा रूपसेन (king roopsen) राज करता था। उसके पास चिन्तामणि नाम का एक तोता (parrot) था। एक दिन राजा ने उससे पूछा, “हमारा ब्याह किसके साथ होगा?” तोते ने कहा, “मगध देश के राजा ...

Read More »

पति कौन ? बेताल पच्चीसी – Pati Kaun – Story of Vikram Betal

vikram aur betaal

पति कौन ? बेताल पच्चीसी – Pati Kaun – Story of Vikram Betal यमुना के किनारे धर्मस्थान नामक एक नगर (sity) था। उस नगर में गणाधिप नाम का राजा राज करता था। उसी में केशव नाम का एक ब्राह्मण भी रहता था। ब्राह्मण यमुना (yamuna) के तट पर जप-तप किया करता था। उसकी एक पुत्री थी, जिसका नाम मालती था। ...

Read More »

पुण्य किसका ? – बेताल पच्चीसी- Punya Kiska – Story of Vikram Betal

vikram aur betaal

पुण्य किसका ? – बेताल पच्चीसी- Punya Kiska – Story of Vikram Betal वर्धमान नगर में रूपसेन नाम का राजा (king) राज करता था। एक दिन उसके यहाँ वीरवर नाम का एक राजपूत नौकरी (job) के लिए आया। राजा ने उससे पूछा कि उसे ख़र्च के लिए क्या चाहिए तो उसने जवाब दिया, हज़ार तोले सोना। सुनकर सबको बड़ा आश्चर्य ...

Read More »