जानिए श्री गणेश के सिद्ध मंत्र | Jaaniye Bhagwan Shri Ganesh ji ke Sidh Mantra

dharmik

जानिए श्री गणेश के सिद्ध मंत्र | Jaaniye Bhagwan Shri Ganesh ji ke Sidh Mantra समस्त मनोकामना पूर्ण करें श्री गणेश के सरल मंत्र श्री गणेश (Bhagwan Shri Ganesh Ji) की स्तुति, पूजा-पाठ, जप आदि से ग्रहों की शांति स्वमेव हो जाती है। यदि किसी भी ग्रह की पीडा़ में कोई उपाय नहीं सूझ रहा हो तो आप श्री गणेशजी ...

Read More »

भारत के 10 अनसुलझे रहस्य जानिए | Bharat desh ke 10 ansuljhe rahasya jaaniye

aaa

 भारत के 10 अनसुलझे रहस्य जानिए | Bharat desh ke 10 ansuljhe rahasya jaaniye ऋषि-मुनियों ( Rishi Muni) और अवतारों की भूमि ‘भारत’ एक रहस्यमय देश है। यदि धर्म कहीं है तो सिर्फ यहीं है। यदि संत कहीं हैं तो सिर्फ यहीं हैं। माना कि आजकल धर्म, अधर्म की राह पर चल पड़ा है। माना कि अब नकली संतों की ...

Read More »

श्रीकृष्ण के जीवन से जुड़ी 11 रोचक घटनाएं, जानिए | Bhagwan Shri Krishan ji ke jeevan se judi 11 rochak ghatnaaye jaaniye

aaa

 श्रीकृष्ण के जीवन से जुड़ी 11 रोचक घटनाएं, जानिए | Bhagwan Shri Krishan ji ke jeevan se judi 11 rochak ghatnaaye jaaniye न कोई मरता है और न ही कोई मारता है, सभी निमित्त मात्र हैं… सभी प्राणी जन्म से पहले बिना शरीर के थे, मरने के उपरांत वे बिना शरीर वाले हो जाएंगे। यह तो बीच में ही शरीर ...

Read More »

भगवान शिव के 10 रुद्रावतार | Bhagwan Shivji ke 10 Rudravatar

dharmik

भगवान शिव के 10 रुद्रावतार | Bhagwan Shivji ke 10 Rudravatar ब्रह्मा, विष्णु और शिव में विष्णु और शिव के दर्जनों अवतारों के बारे में पुराणों में मिलता है। विष्णु के 24 अवतार हैं तो शिव के 28 अवतार। लेकिन उनमें भी जो प्रमुख है उसी की चर्चा की जाती है। जैसे विष्णु के 10 अवतार और शिव के 10 ...

Read More »

विज्ञान की नजर में शरीर में कहां रहती है आत्मा, जानिए | Vigyan ki nazar mein shareer mein kaha rehti hai Aatma jaaniye

dharmik

विज्ञान की नजर में शरीर में कहां रहती है आत्मा, जानिए | Vigyan ki nazar mein shareer mein kaha rehti hai Aatma jaaniye आत्मा के बारे में हिंदू धर्म के धर्मग्रंथ वेदों में लिखा है कि आत्मा मूलत: मस्तिष्क में निवास करती है। मृत्यु के बाद आत्मा वहां से निकलकर दूसरे जन्म के लिए ब्रह्मांड में परिव्याप्त हो जाती है। ...

Read More »

‘आत्मा’ के बारे में 10 जानकारी | Aatma ke baare mein 10 jaankaariya

dharmik

 ‘आत्मा’ के बारे में 10 जानकारी | Aatma ke baare mein 10 jaankaariya तुम्हें और मुझे ही आत्मा कहा जाता है। तुम्हारे और हमारे ही नाम रखे जाते हैं। जब हम शरीर छोड़ देते हैं तो कुछ लोग तुम्हें या मुझे भूतात्मा मान लेते हैं और कुछ लोग कहते हैं कि उक्त आत्मा का स्वर्गवास हो गया। ‘मैं हूँ’ यह ...

Read More »

कैसा है ‘आत्मा’ का रंग? | Kaisa hai Aatma ka rang

dharmik

कैसा है ‘आत्मा’ का रंग?  |  Kaisa hai Aatma ka rang दुनिया (World) का शायद ही कोई व्यक्ति जानता होगा की आत्मा का रंग (Color of Soul) क्या है। क्या सचमुच ही आत्मा का भी रंग होता है? कहते हैं कि आत्मा का कोई रंग नहीं होता वह तो पानी की तरह रंगहीन है। लेकिन नहीं जनाब ‘आत्मा’ का भी ...

Read More »

आपकी बॉडी लैंग्वेज बताती है कैसे हैं आप | Aapki body language bataati hai kaise hai aap

dharmik

आपकी बॉडी लैंग्वेज बताती है कैसे हैं आप | Aapki body language bataati hai kaise hai aap आपके सामने एक ऐसा व्यक्ति आ खड़ा हो जिसके हाथ की सभी अंगुलियां खुली हों, हाथ कंधों से प्राणहीन होकर लटक रहे हों तो मान लीजिए कि ऐसे जातक में निर्णय शक्ति नहीं होती तथा ये अनिश्चय की अवस्था में रहते हैं। ऐसे ...

Read More »

मृत्‍यु की ठीक-ठीक भविष्‍यवाणी, जानिए | Mrityu ki theek theek bhavishyavaani jaaniye

dharmik

मृत्‍यु की ठीक-ठीक भविष्‍यवाणी, जानिए  |  Mrityu ki theek theek bhavishyavaani jaaniye सोपक्रमं निरूपक्रमं च कर्म तत्‍संयमादपारान्‍तज्ञानमरिष्‍टेभये वा।- योग सूत्र अर्थात: ‘सक्रिय व निष्‍क्रिय या लक्षणात्‍मक व विलक्षणात्‍मक- इन दो प्रकार के कर्मों पर संयम पा लेने के बाद मृत्‍यु की ठीक-ठीक घड़ी की भविष्‍य सूचना पाई जा सकती है।’ ….तो इसे दो प्रकार से जाना जा सकता है। या ...

Read More »

यजुर्वेद में वर्णित है नवग्रहों के सुंदर मंत्र | Yajurved mein varnit hai navgraho ke sunder mantra

dharmik

यजुर्वेद में वर्णित है नवग्रहों के सुंदर मंत्र  |  Yajurved mein varnit hai navgraho ke sunder mantra वैदिक काल से ग्रहों की अनुकूलता के प्रयास किए जाते रहे हैं। यजुर्वेद में 9 ग्रहों की प्रसन्नता (Happiness) के लिए उनका आह्वान किया गया है। यह मंत्र (Mantra) चमत्कारी रूप से प्रभावशाली हैं। प्रस्तुत है नवग्रहों के लिए विलक्षण वैदिक मंत्र- * ...

Read More »
google-site-verification: google31779ae1b770d891.html